अहोई अष्टमी का व्रत कथा (ahoi asthmi vrat katha)

 अहोई अष्टमी का व्रत कथा (ahoi asthmi vrat katha)




कथा- एक साहूकार के सात बेटी की बहुएं अपनी ननद
के साथ चौके के लिए मिट्टी लेने गई। मिट्टी खोदते समय
। उनकी ननद से स्याक के बच्चे मर गये । स्याऊ ने कहा कि में
श्राप देगी, तेरी कोख बाधूंगी। तब वह बोली कि भाभीयों तुम में से
एक मेरे बदले यह श्राप ले लो तब छ: भाभीयों ने तो न कर दी।
सब से छोटी ने सोचा कि यह अपनी छोटी ननद है। इसकी कोख
बंध जाएगी तो इसकी सास को दु:ख होगा। मेरे तो छ: जेठानियाँ
है। इनके बाल बच्चे होंगे ही। ऐसा सोचकर उसने अपनी कोख
बंधवा ली। दिन बीते वर्ष बीते उसके बालक हो और मर जायें
और वह भी होई के दिन मरें। इसलिए वह व्रत भी नहीं कर सके।
उसका दिन रात रोना चालू रहे। उसने बड़े बड़े पंडित बुलवाये
और पूछा कि मेरा यह श्राप कैसे छूटेगा। तब पंडितों ने बताया कि
तू सूररी गऊ की सेवा किया कर। स्याऊ उसकी बहिन है। जब
सूररी खुश होगी तो वह अपनी बहिन से कहकर तुम्हारी कोख
छडवा देगी। पंडितों की बात मान कर वह दूसरे दिन से ही सूररी
गाय की सेवा करने लगी। बहुत दिन बीत गये। सुररी गाय ने पूछा
कि तुझे मेरी सेवा करते हुए बहुत दिन हो गए। तू क्या चाहती है
साहूकार के बेटे की बहू ने कहा कि स्याऊ से मेरी कोख छडवा।।
सुररी बोली कि कल मुंह- अंधेरे में आना। दूसरे दिन वह आई तो
सुररी उसे अपने साथ लेकर उजाड़ बावनी में आई। वहाँ स्याऊ ने
कहा- आ बहन बहुत दिनों में आई। यह तुम्हारे साथ कौन है
सुररी बोली यह मेरी सेवा करती है। तब स्याऊ ने कहा कि मुझे मेरे
बच्चों की रखवाली के लिए भी चाहिए। सुररी बोली इसे ही रख
ले । साहूकार के बेटे की बहू उनकी सेवा करने लगी।
एक दिन स्याऊ बोली तू कौन है ओर इतनी उदास क्यों
रहती है साहूकार के बेटे की बहू आँखों में आंसू ले आई और
बोली कोई बात नहीं तब स्याऊ बोली अभी बता मैं तेर संकट दूर।
करूंगी। साहूकार के बेटे की बहू वचन दे। स्याऊ ने वचन दिया तो
कोई बात नहीं सेवा- बंदगी से सब कुछ हो सकता है। आज के
उसने सारी बात कह दी। स्याऊ ने कहा तूने मुझे ठग लिया पर
बाद तेरी संतान नहीं मरेगी तथा पिछले सातों बेटे भी अपने बहुओं
के साथ घर आ जायेंगे। यह आर्शीवाद तथा बहुत सा धन देकर
विदा किया।

ShayriKiDairy

Cute Love Shayari For Girlfriend-Boyfriend, Best Love Sms Quotes,Attitube Status. Pyar Bhari Shayari about Love Forever, Love Sms in Hindi for Her & Him. Sad shayri Quotes.

No comments:

Post a Comment