बछवारस की कथा (Bachvaras Ki Katha)

बछवारस की कथा (Bachvaras ki katha)


कथाः- एक राजा के सात बेटे थे। उनके एक पौत्र
(पोता या नाती) था। एक दिन राजा ने सोचा कि एक कुआ।
बनवाया जाय। उसने कुँआ बनवाया परन्तु उसमें जल नहीं
आया। तब राजा ने पंडितों को बुलाकर पूछा-क्या बात है।
मेरे कुएँ में पानी क्यों नहीं आया है तब ब्राह्मण कहने लगे।
महाराज अगर आप अपने नाती की बलि देवें और यज्ञ करे।
तो पानी आ जावेगा। राजा ने कहा ऐसा ही करो। यज्ञ की।
तैयारियां हुईं और बच्चे की बलि दी गई। बच्चे की बलि लगते।
|ही वर्षा होने लगी और कुँआ पानी से भर गया। राजा ने जब ।
यह समाचार सुना तो वह पानी सहित कुँआ पूजने गये उस ।
दिन घर में साग सब्जी न होने के कारण उनकी नौकरानी ने
गाय के बछड़े को काटकर साग बना दिया। जब पूजा करके।
राजा रानी वापिस चले आये तब राजा ने नौकरानी से पूछा
गाय का बछड़ा कहां है तब नौकरानी कहने लगी वह तो मैने
काट कर साग बना दिया। तब राजा कहने लगा, पापिन तूने
यह क्या किया। राजा ने उस मांस की हांडी को जमीन में गाड़
दिया और कहने लगा-जब गाय वन से लौट कर आयेगी तो
उसको किस प्रकार समझाऊँगा। शाम को जब गाय वापिस
को अपने सींग से खोदन लगी। जब सींग हांड़ी में लगा तो गाय
आई तो वह जहाँ पर बछड़े का मांस गड़ा हुआ था। उस जगह
ने उसे बाहर निकाला उस हांड़ी में से गाय का बछड़ा और
राजा का नाती निकले। उसी दिन से इस दिन का नाम बछवारस
पड़ गया और गायों तथा उनके बछड़ों की पूजा होने लगी।

कहानी:- बछवारस  का त्यौहार भाद्रपद द्वादशी को मनाया जाता
स्त्रियों को बछड़ो की पूजा करनी चाहिए। अगर
है। गाय बछड़े न हों तो किसी दूसरे की गाय या
यदि ऐसे भी उपलब्ध न हों तो मिट्टी के गाय-बछड़े
बनाकर उसकी पूजा करनी चाहिए। पूजा में उनके ऊपर
दही, भीगा हुआ बाजरा, आटा, घी आदि चढ़ावे फिर
हल्दी से तिलक करें, चावल दूध चढ़ावे, फिर बछवारस
 की कहानी सुननी चाहिए। फिर मोठ, बाजरा पर एक रुपया रखकर
वायना काढ़ सासु जी को दे दें। इस दिन बाजरे की ठंडी रोटी
वावें। गाय का दूध, दही, गेहूं, चावल नहीं खाना चाहिए। यह
वन पत्र प्राप्त करने के लिए किया जाता है। अपने कुंवारे
लड़के की कमीज पर सातिया बनाकर पहनावे और कुएँ को
पंजे। इससे बच्चे के जीवन की रक्षा होती है। भूत-प्रेत, नजर
और रात के अचानक डर से बचत होती है।

ShayriKiDairy

Cute Love Shayari For Girlfriend-Boyfriend, Best Love Sms Quotes,Attitube Status. Pyar Bhari Shayari about Love Forever, Love Sms in Hindi for Her & Him. Sad shayri Quotes.

No comments:

Post a Comment